Fertilizer Transport Subsidy

कृषि निवेश आपूर्ति एंव वितरण योजनान्तर्गत उर्वरक परिवहन पर राज सहायता

उत्तराखण्ड में पर्वतीय क्षेत्रों में बिक्री केन्द्र रेल हैड से इतने अधिक दूर है कि यदि उनमें सामान्य व्यवस्था के अन्तर्गत उर्वरक आपूर्ति की जाय तो दूरस्थ क्षेत्रों में उर्वरक की कीमतों में अत्यधिक वृद्वि हो जायेगी एंव शासन की नीति के अनुसार निर्धारित एक ही दर पर समस्त स्थानों पर उर्वरक बिक्री नहीं की जा सकती हैं। उक्त स्थिति को दृष्टिगत रखते हुए रेल हैड से समिति बिक्री केन्द्रों तक उर्वरक आपूर्ति में जो व्यय आता है उसमें 10 रूपये प्रतिटन परिवहन व्यय संस्था द्वारा वहन किया जायेगा । अवशेष धनराशि की मांग शासन से अनुदान स्वरूप प्रदान की जाती है। इसके अतिरिक्त उर्वरक ढुलान की दरो में वृद्वि होने के कारण मैदानी क्षेत्रो में उर्वरक वितरण पर परिवहन अनुदान दिया जाना आवश्यकीय हैं, ताकि कृषको को उनकी आवष्यकता के अनुरुप उर्वरक वितरित किया जा सके। योजना के अन्तर्गत पर्वतीय क्षेत्रो की भांति मैदानी क्षेत्रो में भी उर्वरक परिवहन पर अनुदान दिया जाना प्रस्तावित है। उक्त योजना कास्तकारों/कृषकों से सीधी जुडी हुई है, जिससे उनके स्वरोजगार के अवसर बढ़ते हैं ।